सकारात्मक पहल : स्मैक बेचने व सेवन करने पर लगेगा जुर्माना, पूनासा गांव के ग्रामीणों ने शुरू की अनूठी मुहिम

 सकारात्मक पहल :  स्मैक बेचने व सेवन करने पर लगेगा जुर्माना, पूनासा गांव के ग्रामीणों ने शुरू की अनूठी मुहिम

सकारात्मक पहल :  स्मैक बेचने व सेवन करने पर लगेगा जुर्माना, पूनासा गांव के ग्रामीणों ने शुरू की अनूठी मुहिम


बिश्नोई न्य़ूज डेस्क, जालौर। जिले के भीनमाल तहसील क्षेत्र के दर्जनों गांवों में स्मैक व एमडी के कारोबार व युवाओं को नशामुक्त करने के लिए ग्रामीणों ने मिलकर फैसला लिया है। भीनमाल तहसील के निकटवर्ती ग्राम पूनासा के ग्रामीणों ने संघन नशामुक्ति अभियान शुरु किया है।

ग्रामीणों ने सार्वजनिक बैठक कर स्मैक व एमडी की बिक्री और इसके सेवन पर जुर्माना वसूलने का निर्णय किया है। अगर कोई व्यक्ति इनका व्यापार या सेवन करता पाया जाएगा तो पुलिस को सूचना दी जाएगी।


स्मैक व एमडी बैचने व सेवन करने वालों से जुर्माना वसूला जाएगा

बैठक में तय किया कि स्मैक व एमडी के बेचने वाले व्यक्ति पर 11 हजार व सेवन करने वाले से 5 हजार का जुर्माना वसूला जाएगा। इसके लिए उन्हें सात दिन का समय दिया गया। उसके बाद यह कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

युवा वर्ग नशे के इस दलदल बाहर निकलें। दृढ़ संकल्प व इच्छाशक्ति से नशे का त्याग कर जीवन में नया सवेरा लाएं।

रावलाराम विश्नोई, सेवानिवृत्त प्रिंसिपल  

 

  नशे से मनुष्य का जीवन नरक बन जाता है। नशे से शरीर पर कई दुष्परिणाम होते हैं। साथ ही आर्थिक नुकसान भी होता है।

रघुनाथराम खिलेरी

विश्नोई महासभा मुकाम के सदस्य जयकरण खिलेरी ने गांव के युवाओं को स्मैक व एमडी का सेवन और बेचान करने वाले लोगों को चिह्नित कर उनका डाटा तैयार करने का आह्वान किया। एक बार समझाने के बाद भी नहीं मानने पर पुलिस से हत्थे चढ़वाने की चेतावनी भी दी।

नशे की लत के दुष्परिणाम बताने के लिए ग्रामीणों व गांवों में वाहन रैली निकाली गई। वहीं पंचायत के फैसले से अवगत करवाया।

बैठक में निर्णय लिया गया कि पूनासा चौकी प्रभारी दीपसिंह राजपुरोहित, रामकिशन विश्नोई, वीरमाराम जाट, रामलाल जांगू, जोधाराम जांगू, पूर्व पंचायत समित सदस्य कोजाराम पंवार, शिक्षक आसुराम जानी, किसनाराम जांगू, शिक्षक गणपत ढाका, रतन खिलेरी, हरिराम पंवार, राजूराम खिलेरी, हरिराम डारा, बाबू खिलेरी के नेतृत्व में यह मुहिम चलेगी।

कई गांवों में लत के शिकार युवा: दरअसल, क्षेत्र के करड़ा, वाड़ाभाड़वी, भालनी, सेवड़ी, दांतीवास, पूनासा, वियो का गोलिया, नयावाड़ा, हापू की ढाणी, डुंगरवा व थोबाऊ गांव में कई युवा स्मैक की नशे की दलदल में धंसे हुए हैं। ऐसे में ग्रामीणों ने यह मुहिम शुरू की है।


पुलिस ने वर्ष 2017 में शुरू की थी संजीवनी योजना।

तत्कालीन एसपी विकास शर्मा के निर्देशन में युवाओं में स्मैक की लत से छुटकारा दिलवाने व युवाओं का नशे की दुष्परिणाम से अवगत करवाने के लिए पुलिस ने संजीवनी योजना शुरू की थी। इसके लिए गांव-गांव में नुक्कड़ नाटक व सभा के माध्यम से पुलिस व जनप्रतिनिधियों ने लोगों को नशे के दुष्परिणाम बताए। हालांकि पुलिस की इस मुहिम के परिणाम भी सार्थक रहे थे। इसके बाद अब पूनासा के ग्रामीणों ने यह कदम उठाया है।


सकारात्मक मुहिम से युवाओं को सुधारने का प्रयास

सकारात्मक मुहिम शुरू की है ग्रामीण क्षेत्र के खासकर युवावर्ग स्मैक व एमडी जैसे नशेे के दलदल में धंस रहा है। इस नशे से नशेड़ी के साथ पूरा परिवार हो जाता है। नशे की चाहत को पूरी करने के लिए युवा अपराध की दुनिया में कदम रखने से पीछे नहीं रहते हैं। युवाओं को नशे के दलदल से बाहर निकालने व इसकी खरीद-फरोख्त पर अंकुश के लिए यह मुहिम शुरू की है। प्रयास कर रहे हैं कि इसके परिणाम भी सार्थक रहे। 


ये भी पढ़ें : 

0/Post a Comment/Comments

Stay Conneted

Hot Widget