फ्रिज व पशुओं के बाड़े में रखा हिरण का छ किलो मांस बरामद

 फ्रिज व पशुओं के बाड़े में रखा हिरण का छ किलो मांस बरामद

फ्रिज व पशुओं के बाड़े में रखा हिरण का छ किलो मांस बरामद


रामरतन बिश्नोई, नागौर। जिले की खींवसर तहसील के भोजास गांव में जब्बर सिंह पुत्र बाघसिंह राठौड़ के घर फ्रिज में रखा हुआ तथा पशुओं के बाड़े में लोहे की तगारी के नीचे रखा हुआ  6 किलो हिरण का कच्चा मांस वन विभाग की टीम ने बरामद किया है मगर शिकारी जब्बरसिंह मौके से फरार हो गया ।

            श्री जंभेश्वर पर्यावरण एवं जीवरक्षा प्रदेश संस्था राजस्थान के अध्यक्ष रामरतन बिश्नोई ने बताया कि आज सुबह शिकारी जबरसिंह राठौड़ पुत्र बागसिंह राठौड़ निवासी भोजास तहसील खींवसर जिला नागौर राजस्थान ने एक चिंकारा हिरण का बंदूक की गोली से शिकार किया और मांस को लाकर घर पर फ्रिज में रख दिया ।

        विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर संस्था की टीम ने इस बात की पुख्ता जानकारी की और उसके बाद उप वन संरक्षक नागौर ज्ञानचन्द मकवाणा को इस बात की सूचना दी ।

         श्री मकवाणा ने सहायक वन संरक्षक सुनील गौड़ को निर्देशित कर के एक टीम का गठन किया जिसमें क्षेत्रीय वन अधिकारी रूपेंद्र शर्मा ,वनपाल हेमेंद्र फिडोदा ,महिला सीमा ईनाणीया ,ममता बांता ,वनरक्षक निरमा बिश्नोई ,रामकिशोर एवं श्रवणराम शामिल थे ।

 संस्था की मुखबिरी के अनुसार टीम वन विभाग की गाड़ी लेकर ग्राम भोजास में पहुंची और शिकारी के घर में छापामारी की तो अचानक गांव के लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गई ।

नागौर रेंजर की हिम्मत को लखदाद

Fridge-pashuon-ke-bade-mein-hiran-ka-mans-baramad


         फिर भी रेंजर रूपेंद्र शर्मा के नेतृत्व में टीम ने साहस दिखाया और शिकारी के घर की तलाशी शुरू की । मुखबिरी की पुख्ता सूचना के अनुसार पशुओं के बाड़े में तलाशी ली गई तो एक लोहे की तैयारी के नीचे रखा हुआ हिरण का मांस बरामद हो गया ।उसके बाद जबरसिंह के घर के अंदर बने एक छोड़कर  दूसरे कमरे में दाहिनी तरफ रखे हुए फ्रिज में भी हिरण का मांस रखा हुआ बरामद हो गया  जिसकी पूरी जानकारी  वन विभाग की टीम को मुखबिर से मिलती रही तब टीम ने मांस अपने कब्जे में लिया । मौका रिपोर्ट बनाई । 

फ्रिज में रखा हिरण का छ किलो मांस बरामद


वन विभाग की टीम को देखते ही जब्बरसिंह मौके से फरार

मौके पर लोगों से पूछताछ करके शिकारी को पकड़ने की कोशिश की ,मगर वन विभाग की टीम शिकारी को चेहरे से नहीं जानती थी इसलिए भीड़ में से गायब होकर मकान मालिक और शिकारी जबरसिंह राजपूत मौके से फरार हो गया ।एक बुढ़िया के अलावा घर में कोई नहीं बचा सभी बाहर चले गए जिसके कारण वन विभाग की टीम किसी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई और मांस बरामद करके नागौर लौटी है। जबर सिंह पुत्र बाग सिंह राठौड़ के विरुद्ध शिकार का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है । उक्त संस्था के प्रदेश अध्यक्ष रामरतन विश्नोई ने संस्था की टीम, गुप्त रूप से पूरी मुखबिरी करके सूचना देने वाले कार्यकर्ता और वन विभाग की टीम का धन्यवाद ज्ञापित किया है । रेंजर और उनके साथ मौके पर गयी टीम ने भीड़ के बावजूद हिम्मत दिखाकर घर में से मांस बरामद किया इसके लिए रेंजर और उसकी टीम को भी विशेष धन्यवाद देते हुए आभार जताया है ।  इस घटना में गुप्त रूप से योजना बनाकर हिरण का मांस बरामद कराना वन्यजीव प्रेमियों की एक जीत है, जिसमें वन विभाग का उल्लेखनीय सहयोग रहा है जिसके कारण वन्यजीव प्रेमियों में खुशी का माहौल है इसी क्रम में संस्था की टीम ने विश्वास जताया है कि फरार आरोपी को भी शीघ्र पकड़ लिया जाएगा ।

विश्वस्त सूत्रों ने बताया है कि उक्त मांस चिंकारा हिरण का है । वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि बरामद मांस प्रथम दृष्टया हिरण का ही है फिर भी इसकी एफ एस एल जांच करवाई जाएगी ।

0/Post a Comment/Comments

Stay Conneted

Hot Widget