विश्व 🌐 पृथ्वी दिवस

विश्व पृथ्वी दिवस || © Ashok Gupta
विश्व पृथ्वी दिवस
 © Ashok Gupta

 आज 22 अप्रैल है। आज का दिन विश्वभर में पृथ्वी दिवस के रूप में मनाया जाता है। आज का दिन चिंतन मनन का दिन है, कि किस प्रकार मां धरती को हम विनाश से बचा सकते है। मानव की गलतियों के कारण धरती का तापमान बढता जा रहा है। धरती को गर्म होने से बचाने के लिए हमें जंगल तथा जंगली जीव जंतुओं की रक्षा करनी होेगी। वैसे तो प्रत्येक इंसान के दिल में जीव जन्तुओं के प्रति प्रेम की भावना है, लेकिन हिन्दू धर्म में इसके लिए कुछ ज्यादा ही दिशा निर्देश है। बिश्नोई समुदाय तो है ही वृक्षों तथा जीव जंतुओं के प्रति समर्पित। यही कारण है कि हरियाणा के पश्चिम भूभाग में हिरण लाखों की तादाद में स्वछंद विचरण करते है। इनमें काला हिरण यानि जिसे श्याम मृग भी कहते हैं, की तादाद अपेक्षाकृत ज्यादा है। कुछ असमाजिक लोगों तथा मांसाहारी कुतों के कारण इनकी तादाद तेजी से घटती जा रही है। ‘पर्यावरण एवं जीव-रक्षा बिश्नोई सभा हरियाणा’ के महासचिव विनोद कड़वासरा ने बताया कि उनकी सभा हिसार फतेहाबाद के बीच के क्ष़त्र में हिरणो तथा अन्य जीव जंतुओं बचाने के लिए जी जान से जुटी हुई है। उन्हीं के प्रयासों से इस क्षैत्र में सरकार भी थोड़ी जाग्रत हुई है। उन्होेंने बताया कि उनकी सभा चाहती हैै कि इस क्षेत्र में कुछ ऐसी भू भाग हो जो इन जीव जंतुओं के लिए संरक्षित हो। हम सबका फर्ज है कि हम अपने आस पास के क्षे़त्र के जीव जंतुओं, पक्षियों तथा वृक्षों को बचाएं।
विश्व पृथ्वी दिवस || © Ashok Gupta/2
विश्व पृथ्वी दिवस
© Ashok Gupta

Ashok Gupta
Ashok Gupta 

Post a Comment

0 Comments